Ayushman Bharat Pradhan Mantri Jan Arogya Yojana:अब सभी को मिलेंगे इलाज के लिए 5 लाख रुपये

दुनिया में ज़्यादातर लोगों को किसी न किसी तरह की स्वास्थ्य समस्या है और यही समस्या हमारे देश में भी है। कई बार इलाज का खर्च इतना ज़्यादा होता है कि मध्यम वर्ग, निम्न वर्ग और गरीब लोग अपना इलाज नहीं करवा पाते हैं। इसी बात को ध्यान में रखते हुए भारत सरकार ने आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना की शुरुआत की। इस योजना के तहत अब तक करीब 12 करोड़ लोगों को मदद मिल चुकी है। इस योजना के तहत सरकार आयुष्मान कार्ड धारकों को 5 लाख रुपये तक का मुफ्त इलाज मुहैया कराती है। इस योजना का मकसद लोगों के इलाज के खर्च को कम करना है क्योंकि हर साल करीब 6 करोड़ लोग गरीबी के कारण अच्छा इलाज नहीं करवा पाते। आयुष्मान कार्ड एक डिजिटल कार्ड है जिसका इस्तेमाल करके लाभार्थी इसका लाभ उठा सकते हैं। आइये इस योजना के बारे में विस्तार से जानते हैं, इसके लिए आपको पूरा लेख पढ़ना होगा।

आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना Ayushman Bharat-PMAY

आयुष्मान भारत योजना को प्रधानमंत्री मोदी ने 23 सितंबर 2018 को प्रधानमंत्री जन रोग योजना के तहत लॉन्च किया था। यह भारत सरकार द्वारा शुरू की गई एक स्वास्थ्य बीमा योजना है। यह योजना दुनिया की सबसे बड़ी बीमा योजना है। इस योजना के तहत हर परिवार को सालाना 500,000 रुपये का बीमा कवर मिलता है, जिसमें सेकेंडरी और टर्शियरी टाइप के अस्पतालों में कवरेज शामिल है। इस योजना का पूरा खर्च केंद्र सरकार और राज्य सरकार मिलकर उठाती है और लाभार्थियों को कोई प्रीमियम नहीं देना पड़ता है। इस योजना की मदद से कई गरीब और निम्न वर्ग के लोग आयुष्मान कार्ड का उपयोग करके मुफ्त इलाज करवा पा रहे हैं। इस योजना की सेवा सरकारी अस्पतालों के साथ-साथ कई निजी अस्पतालों में भी उपलब्ध है।

आयुष्मान भारत योजना का विशेषता (Features)

  • कैशलेस उपचार- इस योजना के तहत लाभार्थी किसी भी सूचीबद्ध निजी और सरकारी अस्पताल में मुफ्त इलाज करवा सकते हैं। सूचीबद्ध का मतलब है वह अस्पताल जो न्यूनतम निर्धारित मानकों को पूरा करता है। और ऐसे अस्पतालों का बीमाकर्ता के साथ गठजोड़ हो। इस योजना में पहले पैसा जमा करने और फिर उसे वापस करने की जरूरत नहीं होती, जिससे लाभार्थी की जेब पर कोई असर नहीं पड़ता। आपको सिर्फ कार्ड दिखाना होता है और कैशलेस इलाज हो जाता है।
  • कोई प्रतिबंध नहीं- परिवार के कितने लोग इस योजना में भी इलाज कर सकते हैं, साथ ही किसी भी लिंग और किसी भी उम्र के लोगों को शामिल किया जा सकता है।
  • कवर किए गए व्यय- आयुषमैन में भारत में लगभग 1929 चिकित्सा प्रक्रियाएं शामिल हैं। इस योजना में मेडिकल परीक्षा, उपचार, परामर्श, सर्जन चार्जिया, दवाएं, गैर गहन और गहन देखभाल सेवाओं, नैदानिक और प्रयोगशाला जैसे कई खर्चों को कवर किया है, जिसमें ओटी और आईसीयू शुल्क, खाद्य सेवाएं शामिल हैं। यानी इलाज के समय किसी तरह की भी समस्या उत्पन्न होती है तो उसके लिए किसी तरह के भी राशि की जरूरत नहीं पड़ती है।
  • अस्पताल में भर्ती होने का कवरेज- इस योजना में लाभार्थी को अस्पताल में भर्ती होने से तीन दिन पहले और छुट्टी मिलने के 15 दिन बाद तक दवाइयों और डायग्नोस्टिक जैसे चीजों का भी खर्च दिए जाते हैं।
  • परिवार द्वारा कवरेज राशि का उपयोग– इस योजना में परिवार को ₹500000 की राशि दी जाती है जिसमें परिवार के किसी एक सदस्य के लिए या फिर इसी राशि में परिवार के सभी सदस्य का इलाज किया जा सकता है।
  • पहले से मौजूद बीमारियों का कवरेज- अगर किसी को पुरानी बीमारी है तो वह भी इस योजना में इलाज करवा सकता है।
See also  राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना 2024 की सम्पूर्ण जानकारी II Rashtriya Parivarik Labh Yojana 2024

आयुष्मान भारत योजना का पात्रता (Eligibility)

  • EWS के अंतर्गत आने वाले लोग इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।
  • जिनके पास स्थायी निवास नहीं है वे इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।
  • कोई भी परिवार जो सामाजिक-आर्थिक जाति जनगणना 2011 चयनित वंचना और व्यवसाय मानदंडों के डेटाबेस में मौजूद है, वे सीधे आयुष्मान भारत से जुड़ सकते हैं और लाभ उठा सकते हैं।
  • जो परिवार पहले से ही राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना में शामिल हैं, वे आयुष्मान भारत योजना में भी स्वतः ही शामिल हो जाते हैं।
  • लाभार्थी की आय 2.4 लाख से कम होनी चाहिए।
  • ऐसा परिवार जिसमें कोई वयस्क सदस्य न हो और जिसकी आयु 16 वर्ष से 59 वर्ष के बीच हो अर्थात कोई कमाने वाला सदस्य न हो, वो इसमें शामिल हो सकता है।
  • एक परिवार जिसके पास कच्ची दीवार और कच्ची छत वाला एक कमरा हो।
  • ऐसे परिवार जिनमें कोई पुरुष न हो और केवल महिलाएं हों, वे भी इस योजना का लाभ ले सकते हैं।
  • ऐसे परिवार जिनमें कोई विकलांग पुरुष हो या काम करने के लिए सक्षम ना हो, वे भी इस योजना का लाभ ले सकते हैं।
  • अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति वर्ग के अंतर्गत आने वाले लोग।
  • ऐसा परिवार जिसका घर ना हो और उनकी कमाई मजदूरी से आती हो वह भी इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।
  • शहर में रहने वाले लोग जैसे गलीचा बीनने वाले, भिखारी, निर्माण श्रमिक, प्लंबर, पेंटर मजदूर, वेल्डर, सुरक्षा गार्ड, कुली, अन्य सिर का बोझ उठाने वाले श्रमिक, घरेलू कामगार, गृह आधारित श्रमिक, कारीगर, हस्तशिल्प श्रमिक, दर्जी, स्थानांतरण कार्य आदि इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।
See also  मुख्यमंत्री सीखो कमाओ योजना की पूरी जानकारी II Mukhiyamantri Sikho Kamao Yojana 2024

आयुष्मान भारत योजना का लाभ कौन नहीं उठा सकता

  • जिनके पास खेती के लिए मशीनी उपकरण हैं।
  • जिनके पास गाड़ी है।
  • जिनके परिवार में कोई सरकारी नौकरी में है।
  • जिनकी कमाई 10,000 रुपए महीने से ज़्यादा है, वे इस योजना का लाभ नहीं उठा सकते।
  • जिनके पास फ्रिज और लैंडलाइन है।
  • जिनके पास 50,000 रुपए का किसान क्रेडिट लिमिट कार्ड है, वे इस योजना का लाभ नहीं उठा सकते।
  • जिनके पास अच्छी या पक्की ज़मीन है।
  • जिनके पास पाँच एकड़ खेती की ज़मीन है।

आयुष्मान कार्ड के लिए आवश्यक दस्तावेज (Documents)

  • आधार कार्ड,
  • पान कार्ड,
  • राशन कार्ड,
  • अन्य कार्ड,
  • पासपोर्ट आकार का फोटो,
  • आय प्रमाण पत्र,
  • जाती प्रमाण पत्र।

आयुष्मान कार्ड के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया

  • आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • उसके बाद आपकी स्क्रीन पर Am I eligible का ऑप्शन आएगा उसे पर क्लिक करें।
  • इसके पश्चात आपके सामने नया पेज खुलेगा जिसमें आपको मोबाइल नंबर और कैप्चा को भरकर वेरीफाई करना है।
  • फिर लोगों ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • उसके बाद search for beneficiary पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद आपको अपना राज्य चुना है और स्कीम में PMJAY लिखना है।
  • उसके बाद आपको राशन कार्ड के लिए आधार कार्ड, परिवार की आईडी या location urban ya location rural इत्यादि इन सभी जानकारी को भरना है। आधार कार्ड या राशन कार्ड देने से आपके फैमिली की डिटेल्स स्क्रीन पर आ जाएगी।
  • इसके पश्चात आपको जिस परिवार के सदस्य का आयुष्मान कार्ड बनाना है उसका नाम को चुना है और डीटेल्स को वेरीफाई करना है।
  • उसके बाद आधार के ऑप्शन को चुनिए और ओटीपी द्वारा वेरीफाई करें।
  • वेरीफाई करने के बाद ऑथेंटिकेशन पेज खुलेगा और यहां आयुष्मान कार्ड के आवेदन को सबमिट करना है।
  • सबमिट करने के बाद एक नया पेज खुल जाएगा जहां e-kyc ऑप्शन को सेलेक्ट करना है।
  • e-kyc कस करने के बाद आपके रजिस्टर नंबर पर ओटीपी आएगा उसे दर्ज करना है।
  • इसके पश्चात अपना पासपोर्ट साइज फोटो सबमिट करना है।
  • इसके बाद पूछे गए जानकारी को डालना है और फाइनल सबमिट करना है इस तरह आपका आयुष्मान कार्ड बन जाएगा।
See also  AICTE मुफ़्त लैपटॉप योजना 2024 (AICTE Free Laptop Yojana 2024)

Q&A

Q. आयुष्मान कार्ड के अंदर किस बीमारी की इलाज होती है?

Ans:- जलने – कटने या घाव संबंध शारीरिक समस्या, हृदय रोग से जुड़े इलाज, सामान्य ऑपरेशन वाले इलाज, केंसर की इलाज, आंखों से जुड़ी समस्या, प्रजनन अंगों से जुड़ी समस्या, कान,नाक और गले से जुड़ी समस्या, इत्यादि बीमारियों का इलाज किया जाता है।

Q. आयुष्मान कार्ड कहां बनवा सकते हैं?

Ans:- ऑनलाइन आवेदन के साथ-साथ अपने नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र जाकर भी बनवा सकते हैं।

Q. आयुष्मान कार्ड कब शुरू किया गया था?

Ans:- 23 सितंबर 2018

Q. आयुष्मान कार्ड के अंतर्गत कितनी राशि मिलती है?

Ans:- 5 lakh

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *